चीनी मोबाइल कंपनी, 85 प्रतिशत भारतीयों की छीन ली नौकरी!

नवंबर में नोटबंदी के फैसले के बाद भारत में कंपनी की बिक्री पर काफी असर पड़ा था,

March 3, 2017
74 Views

स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी लेईको ने अपने 85 प्रतिशत भारतीय स्टाफ को नौकरी से निकाल दिया है, जबकि दो बड़े अधिकारियों ने भी कंपनी को बाय-बाय कर दिया है। नवंबर में नोटबंदी के फैसले के बाद भारत में कंपनी की बिक्री पर काफी असर पड़ा था, जिसके कारण स्टाफ निकानले के फैसले में और तेजी आई। सूत्रों के मुताबिक दिल्ली और मुंबई दोनों ही ऑफिसों में लोगों की छंटनी हो गई है और फिलहाल कंपनी अपने बेंगलुरु स्थित रिसर्च एंड डिवेलपमेंट सेंटर्स से लोगों को निकाल रही है।
चार महीने पहले ही चीन के अरबपति जिया यूटिंग ने कहा था कि लेईको नकदी की समस्या से जूझ रही है। ईटी ने बड़े इंडस्ट्री सूत्रों के हवाले से बताया कि स्मार्ट इलेक्ट्रॉनिक्स बिजनेस के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर अतुल जैन और इंटरनेट एप्लिकेशंस सर्विसेज एंड कंटेंट के सीओओ देबाशीष घोष ने इस्तीफा दे दिया है। शाओमी, ओप्पो और विवो जैसी कंपनियों को भी पीछे छोड़ने वाली इस कंपनी ने एडवरटाइजिंग पर एक महीने में 80 करोड़ कर दिए थे और दिसंबर से ऑफलाइन रिटेल स्टोर से ब्रिकी बंद कर दी थी।
नवंबर में जिया ने कंपनी के कर्मचारियों को एक ईमेल में लिखा था कि कंपनी के पास बहुत जल्दी नकदी खत्म हो गई है क्योंकि उसने ड्राइवरलेस कार और स्मार्टफोन बिजनेस में विस्तार करने के लिए पैसा लगाया है।
ब्लूमबर्ग ने कहा था कि चेयरमैन का खत का इशारा बेतहाशा विस्तार की ओर था, जिसके कारण नकदी कम होती चली गई। उद्योग जगत के कार्यकारियों ने इस कंपनी में वित्तीय संकट के लिए चीन और अमेरिका पर ध्यान केंद्रित करने के फैसले को जिम्मेदार ठहराया। नवंबर में नोटबंदी के फैसले के बाद भारत में भी कंपनी की बिक्री पर काफी असर पड़ा था, जिसके कारण इस फैसले में और तेजी आई। सूत्रों के मुताबिक दिल्ली और मुंबई दोनों ही ऑफिसों में लोगों की छंटनी हो गई है और फिलहाल कंपनी अपने बेंगलुरु स्थित रिसर्च एंड डिवेलपमेंट सेंटर्स से लोगों को निकाल रही है।
जब भारत में लिईको के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर से संपर्क किया गया तो एलेक्स ली ने पुष्टि करते हुए कहा कि उसके दो बड़े अधिकारियों ने कंपनी से इस्तीफा दे दिया है। लेकिन उन्होंने कहा कि कंपनी का बाजार से निकलने या स्टॉक खत्म करने की कोई योजना नहीं है। वहीं एक सीनियर एग्जीक्युटिव ने कहा कि कंपनी भारत छोड़ने की तैयारी कर रही है, क्योंकि नोटबंदी के बाद उसे फिर से खड़ा होने के लिए कोई फॉर्म्युला नहीं मिल रहा है।

Get the best viral stories straight into your inbox!

Don't worry, we don't spam

Leave a Comment

Your email address will not be published.