जानिए क्या होता है Advance Tax और किसे भरना होता है, अगर गलती से चुकाना भूल गए तो क्या होगा? आयकर अधिनियम 1961 की धारा 208

advance tax
नौकरीपेशा लोगों को तो Advance Tax नहीं भरना होता है, क्योंकि कंपनी की तरफ से ही टैक्स (Tax) काट लिया जाता है और उसे इनकम टैक्स (Income Tax) विभाग के पास जमा करा दिया जाता है. अब सवाल ये है कि क्या आपको पता है एडवांस टैक्स होता क्या है? किस पर लगता है और क्यों लगता है?

एडवांस टैक्स (Advance Tax) के बारे में आप अक्सर ही सुनते होंगे. कई बार खबरें आती हैं कि किसी सेलेब्रिटी ने सबसे ज्यादा एडवांस टैक्स का भुगतान किया है. नौकरीपेशा लोगों को तो एडवांस टैक्स नहीं भरना होता है, क्योंकि कंपनी की तरफ से ही टैक्स (Tax) काट लिया जाता है और उसे इनकम टैक्स (Income Tax) विभाग के पास जमा करा दिया जाता है. अब सवाल ये है कि क्या आपको पता है एडवांस टैक्स होता क्या है? किस पर लगता है और क्यों लगता है? अगर एडवांस टैक्स ना चुकाएं तो क्या होगा? आइए जानते हैं इसके बारे में सब कुछ.

Good News! Government is giving tax exemption opportunity to women under these 5 sections, see the section and other details.

क्या होता है Advance Tax?

एडवांस टैक्स एक तरह का इनकम टैक्स ही होता है, जो वित्त वर्ष खत्म होने से पहले ही आयकर विभाग के पास जमा करना होता है. इसे सामान्य टैक्स की तरह सालाना आधार पर एकमुश्त नहीं चुकाया जाता, बल्कि किस्तों में जमा किया जाता है. इसके तहत टैक्सपेयर्स एडवांस में ही टैक्स आयकर विभाग के पास जमा करते हैं.

किसे चुकाना होता है Advance Tax?

एडवांस टैक्स उन लोगों को चुकाना होता है, जिनकी टैक्स देनदारी 10 हजार रुपये से अधिक होती है. यह नौकरीपेशा लोग, फ्रीलांसर, व्यापारियों और अन्य किसी तरह से पैसे कमाने वाले लोगों पर लागू होता है. हालांकि, अगर आपकी उम्र 60 साल से अधिक है, जो किसी तरह की बिजनेस नहीं करते हैं, उन्हें एडवांस टैक्स से छूट मिली हुई है.

कब चुकाना होता है Advance Tax?

Advance Tax को सामान्य टैक्स की तरह साल में एक बार एकमुश्त नहीं देना होता, बल्कि किस्तों में चुकाना होता है. इसे हर तिमाही के हिसाब से चुकाना पड़ता है. इसकी तारीख इनकम टैक्स विभाग की तरफ से तय की जाती है. वित्त वर्ष 2022-23 और 2023-24 के लिए यह तारीखें 15 जून, 15 सितंबर, 15 दिसंबर और 15 मार्च हैं.

कितना Advance Tax चुकाना होता है?

सरकारी कर्मचारियों की बंपर वेतन वृद्धि? 8वें वेतन आयोग Breaking News (2024)!

एडवांस टैक्स चुकाया भले ही किस्तों में जाता है, लेकिन उसकी गणना पूरे साल के हिसाब से की जाती है. आपको एडवांस में ये कैल्कुलेट करना होगा कि आप पर साल में करीब कितना टैक्स लग सकता है. अपनी इनकम से आप डिडक्शन हटाकर बची हुई इनकम पर अपने टैक्स स्लैब के हिसाब से टैक्स का कैलकुलेशन कर सकते हैं. 

इसके बाद आपको 15 जून को अपने एडवांस टैक्स का कम से कम 15 फीसदी चुकाना होगा. वहीं 15 सितंबर तक एडवांस टैक्स का 45 फीसदी, 15 दिसंबर तक एडवांस टैक्स का 75 फीसदी और 15 मार्च तक एडवांस टैक्स का 100 फीसदी चुकाना होता है.

एडवांस टैक्स नहीं चुकाया तो क्या होगा?

नौकरीपेशा लोगों के मामले में कई बार नौकरी बदलने की सूरत में अक्सर कंपनियों की तरफ से टीडीएस सही से नहीं कट पाता और एडवांस टैक्स की लाएबिलिटी बन जाती है. ऐसे में आपको चेक करना होगा और एडवांस टैक्स जमा करना होगा, वरना आप पर एक चार्ज भी लगेगा और आपको ब्याज भी चुकाना पड़ेगा.

अग्रिम आयकर (Advance Tax) किस्तें वित्त वर्ष 2023-24 (आकलन वर्ष 2024-25) के लिए

ध्यान दें: नीचे दी गई तालिका में कोई विशिष्ट राशि नहीं है क्योंकि अग्रिम कर भुगतान पूरे वित्तीय वर्ष के लिए आपकी अनुमानित आय पर निर्भर करता है।

यह तालिका आपको किस्तों की देय तिथियों और आपके कुल कर दायित्व के न्यूनतम प्रतिशत के बारे में बताती है जिसे आपको प्रत्येक किस्त में जमा करना होगा:

देय तिथिकर दायित्व का न्यूनतम प्रतिशत
15 जून, 202315%
15 सितंबर, 202345% (कुल कर दायित्व – 15 जून की भुगतान राशि)
15 दिसंबर, 202375% (कुल कर दायित्व – जून और सितंबर भुगतान राशि)
15 मार्च, 2024100% (पूरा कर दायित्व)
Official Link : https://incometaxindia.gov.in/Acts/Income-tax%20Act,%201961/1999/102120000000016011.htm

याद रखने वाले महत्वपूर्ण बिंदु:

  • ये न्यूनतम प्रतिशत हैं. आप किसी भी किस्त में अधिक राशि का भुगतान करना चुन सकते हैं।
  • यदि वर्ष के दौरान आपकी आय का अनुमान बदल जाता है, तो आप अपने अग्रिम कर भुगतान को उसी अनुसार समायोजित कर सकते हैं।
  • समय पर अग्रिम कर का भुगतान नहीं करने पर ब्याज दंड लग सकता है।

अपनी विशिष्ट अग्रिम कर राशि के लिए, आपको वित्तीय वर्ष 2023-24 (आकलन वर्ष 2024-25) के लिए अपनी कर योग्य आय का अनुमान लगाना होगा और उन कटौतियों पर विचार करना होगा जिनके लिए आप पात्र हैं।

Read More..

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top